जानिए भारत के शीर्ष नागरिक सम्मान जिन्हे पाने के लिए हर भारतीय रहता है ललायित

कोई भी कार्य जब हम जनहित के लिए बिना किसी स्वार्थ भाव से करते है तो हमे उसके लिए नागरिक सम्मान दिया जाता है। जो किसी भी व्यक्ती के लिए एक विशेष महत्व रखता है और ये दूसरो को भी प्रेरित करता है जनहित कार्य के लिए। भारत मे भी अगर आप देश के नागरिक होते हुए कई विभिन्न क्षेत्रों मे काम करते है तो भारत सरकार द्वारा आपको देश के कुछ सर्वोच्च सम्मान द्वारा पुरष्कृत किया जाता है। क्या आप जानते है भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान कौन से है और किन क्षेत्रों मे दिए जाते है।

भारत के प्रमुख नागरिक सम्मान

bharatratna sarvochch nagrik samman

भारत रत्न – अगर भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान की बात करें तो भारत के नागरिकों के लिए भारत रत्न पहले नंबर पर आता है। यह सर्वोच्च नागरिक सम्मान मानव सेवा के लिए असाधारण योगदान मे दिया जाता है, और आपकी यह मानव सेवा किसी भी क्षेत्र मे हो सकती है। भारत रत्न प्रत्येक वर्ष सिर्फ तीन व्यक्तियों को ही दिया जा सकता है और यह रत्न किसे देना है इसकी सिफारिश प्रधानमंत्री करते है।

भारत रत्न की शुरुआत 1954 मे की गई थी और अब तक इस सम्मान को सिर्फ 45 लोग ही पा सके है, जिसमे कईयों को मरणोंउपरांत इस सम्मान से सम्मान किया गया। अगर बात करें वर्तमान साल की तो 2019 मे भारत रत्न भूपेन हजारिका (कला), नानाजी देशमुख (सामाजिक क्षेत्र), प्रणव मुखर्जी (लोक कार्य)

भारत के सर्वोच्च सम्मान

पद्म पुरुस्कार – यह भारत का दूसरा सबसे बड़ा नागरिक सम्मान है इसे तीन श्रेणियों मे बांटा गया है क्रमश: प्रथम, द्वितीय और तृतीय। जिनका नाम राष्ट्रपती के आदेश द्वारा 8 जनवरी 1955 को पद्म विभूषण, पद्म  भूषण और पद्म श्री   दिया   गया। ये तीनों पुरस्कार भारतीय नागरिकों को कला, सामाजिक कार्य, जनहित मे किए कार्य या फिर शिक्षा, विज्ञान, चिकित्सा, खेलकूद, साहित्य व नागरिक सेवाओ मे आसाधारण प्रदर्शन के लिए दिया जाता है।

पद्म विभूषण- यह भारत रत्न के बाद देश का दूसरा सर्वोच्च नागरिक सम्मान है जो किसी भी भारतीय द्वारा उसके आसाधारण प्रदर्शन पर दिया जाता है। अगर आप देश के प्रती अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए देश सेवा मे उच्च प्रदर्शन करते है तो यह सम्मान आपको दिया जाएगा। पद्म विभूषण से 2019 मे चार लोगो को सम्मानित किया गया था जिसमे तीजन बाई (कला), इस्माइल उमर गुलेह (लोक कार्य), अनिल कुमार मणिभाई नाईक ( व्यापार व कार्य), बलवंत मोहेश्वर पुरंदरे ( कला) शामिल है।

पद्म भूषण यह भारत का तीसरा सर्वोच्च नागरिक सम्मान है जो भारतीयों को किसी क्षेत्र मे विशिष्ट सेवा के लिए दिया जाता है। वर्तमान साल 2019 मे पद्म भूषण से 14 लोगो को सम्मानित किया गया है, पहली बार 1954 मे इसे होमी जाहगीर भाभा सहित 23 लोगो को दिया गया था। अब तक पद्म भूषण से लगभग 200 से लोगो को सम्मानित किया जा चुका है।

पद्म श्री – भारतीय नागरिकों को दिया जाने वाला यह चौथा महत्वपूर्ण नागरिक सम्मान है जिसे विशिष्ट व महत्वपूर्ण सेवाओ के लिए दिया जाता है। 2019 मे अलग-अलग क्षेत्रों मे कारी कर रहे 94 लोगो को यह पद्म श्री के सम्मान से सम्मानित किया गया।

ये चार सम्मान भारतीय नागरिकों के लिए सर्वश्रेठ सम्मान है जिन्हे पाने के लिए हर कोई ललायित रहता है। एवं सच मे यह बड़ी ही गौरान्वित क्षण होता है जब किसी को यह सम्मान पुरुस्कार रूप मे सम्मानित किया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *