बाघों से जुड़े रोचक तथ्य interesting facts about tiger in hindi

fact about tiger

बाघ (Tiger) भारत का राष्ट्रीय पशु है और पूरी दुनिया मे इनकी आबादी लगभग 3000 से भी कम बची है। पूरी दुनिया मे भारत ही ऐसा देश है जहाँ इनकी आवादी सबसे ज्यादा है। साल दर साल बाघो की घटती जनसंख्या ने सबका ध्यान इनकी तरफ खीचा है एक अध्यन मे कहा गया है की अगर इनके संरक्षण के लिए कठोर निर्णय ना लिए गए तो आने वाले 40 सालो मे बाघ विलुप्त हो सकते है। आज हम बाघो से जुड़े रोचक तथ्यो के बारे मे जानेंगे

1- बाघो को बड़ी बिल्लियों मे गिना जाता है, ये असल मे बिल्लियों की ही प्रजाती है। बिल्लियों का 95.6 प्रतिशत DNA बाघो से मिलता है।

2- बाघ बिल्लियों मे इस दुनिया की सबसे बड़ी जंगली प्रजाती है, जिनका वजन 363 किलो तक हो सकता है व इसकी लम्बाई 6 फीट तक बढ़ सकती है।

3- जब कोई बाघ दहाड़ता है तो उसकी दहाड़ तीन किलोमीटर दूर तक साफ सुनाई देती है।

4- 19वी शताब्दी मे एक अकेले बाघ ने 430 लोगो को मार डाला था, जिससे पता चलता है की अगर कोई बाघ आदमखोर हो जाय तो ये कितना खुखार हो सकते है।

5- कुछ विद्वानों के अनुसार 1800 से लेकर 2009 तक बाघो द्वारा लगभग 373,000 लोगो की जान जा चुकी है।

6- बाघ दुनिया का एक मात्र शिकारी है जो वयस्क भालुओ का शिकार करना जानते है।

7- बाघ शिकार के बाद एक रात मे लगभग 27 किलो तक मास खा जाते है।

8- बाघो के अंदर बदला लेने की पृवृती भी होती है अगर किसी ने उसके साथ बहोत बुरा किया है तो ये बदला भी ले सकते है।

9- बाघो के शरीर मे बड़ी-बड़ी काली धारिया होती है, ये धारिया सिर्फ बालो मे ही नही उनकी त्वचा मे भी होती है।

10- हर बाघ की धारिया दूसरे बाघो से अलग होती है जिनसे उन्हे पहचाना जा सकता है ये बिलकुल वैसे ही है जैसे सभी इंसानों के fingerprint जो किसी से नही मिलते।

11- सफ़ेद बाघ दुर्लभ माने जाते है इनका सफ़ेद रंगे उनमे पाए जाने वाले एक जीन के कारण होता है जो 10,000 बाघो मे सिर्फ एक मे मौजूद रहता है।

12- अफ्रीका को जंगली जानवरो का घर कहा जाता है, यहां हर तरह के जंगली जानवर देखने को मिल जाते है पर आपको बाघ देखने को नही मिलेंगे क्योकी अफ्रीका मे एक भी बाघ नही है।

13- दूसरे बाघो की तुलना मे साइबेरियन बाघ ज्यादा आकर्षक व ताकतवर दिखाते है। जिसके कारण बहोत से साइबेरिन बाघ पिजरे मे अपनी उम्र गुजार देते है कुछ ही साइबेरियन बाघ है जो आजादी के साथ जी रहे है।

14- संख्या मे इतने कम होने के बावजूद आज भी इनका शिकार होता है, एक मरे हुए वयस्क बाघ की खाल ब्लैक मार्केट मे सात लाख से भी ज्यादा है।

15- ताकतवर प्रजातियों मे शेर से लेकर बाघ और घरेलू बिल्लिया वे सभी जो बिल्लियों की प्रजाती मे शामिल है वो सब मीठे का स्वाद नही ले सकतीं।

16- कम्बोडिया मे भी बाघ पाए जाते थे जो अब पूरी तरह से ख़त्म हो चुके है। इसलिए साल 2016 मे कम्बोडिया ने अपने देश से बाघो को लुप्त घोषित कर दिया था।

17- बाघ कई बार शिकार करने के लिए रात तक का इतजार करते है। इसका कारण यह है की वे रात मे भी सबकुछ साफ देख सकते है इनकी आँखे रात मे इंसान के मुकाबले छ: गुना ज्यादा तेज होतें है।

18- एक बार बाघ (tiger) और शेर (lion) के नस्ल को मिलाकर breeding कराई गई तो उससे नए जीव की उतपत्ती हुई जिसे tigons या ligers के नाम से जाना जाता है। जो की दोनों नसलों की तुलना मे ज्यादा बड़ा व ताकतवर था।

19- शेर और बाघ दोनों की ताकतवर व खतरनाक शिकारी माने जाते है। दोनों के अंदर बहोत सी समानताए होती है पर जो इन्हे अलग करती है वो ये है की शेर के विपरीत बाघो को साथ रहना पसंद नही होता ये अकेले जीवन जीते है व दूसरे बाघो को अपने क्षेत्र से दूर रखने के लिए नीशान छोड़ते है।

20- कोई भी बाघ जंगलो मे लगभग 10 सालो तक ही जिंदा रह पाता है। लेकिन अगर वह किसी चिड़ियाघर मे है तो वह दुगना जी सकता है। इसकी एक वजह ये सकती है की पिजरे मे रहकर उसे कोई मेहनत करनी नही पड़ती सब मुफ्त मे मिल जाता है।

21- बाघो के शाबाक (बच्चे) शुरुआती कुछ महीनो मे बहोत ही कमजोर होते है इनकी मृत्यु दर 50 प्रतीशत होती है। यही कारण ही की इनकी प्रजाती तेजी से नही बढ़ती।

22- 100 साल पहले तक पूरे एशिया मे 100,000 बाघ रहते थे जो वर्तमान मे लगभग 3,200 हे रह गए है।

23- पहले बाघो की 9 उप-प्रजातिया रहा करती थी जिनमे बंगाल, साइबेरियाई, इंडोचिनिस, दक्षिण चीनी, सुमात्रन, मलयान, कैस्पियन, जावन और बाली शामिल थे। जिसमे से तीन पूरी तरह विलुप्त हो चुके है व एक लगभग विलुप्त हो ही चुका है व बाँकी बची प्रतीय विलुप्ती के कगार पर है।

24- बाघ के पैर बहोत मजबूत होते है, इतने की अगर वह मर गया तो भी खड़ा रह सकता है।

25- कहा जाता है की अगर कोई बाघ आपके सामने आ जाए और आप सीधे उसकी आंखो मे देखे तो संभावना है की वह पीछे हट जाएगा। क्योकी सीधे आंखो मे आंखे डालने से बाघ आपका ज्यादा ताकतवर व निडर समझते है।

veerendra

I am a Blogger and entertaining content writer on its new think site. we share amazing content regularly on this platform. if you like the article share it on social media with your friends and family.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *