कही आपका बच्चा कंप्यूटर पर ज्यादा समय तो नही बिताता

how to control your kids computer use

आधुनिकता बड़ी तेजी के सांथ बढ़ रही है और लोग धीरे-धीरे इसके गिरफ्त मे आ रहे है। आधुनिकता अच्छा है पर पूरे समय इसमे ही लगे रहना खतरनाक साबित हो सकता है। आज कल के बच्चे आधुनिकता के नाम पर कई घंटे computer पर यू ही बिता देते है। अगर आपका बच्चा भी ऐसा कर रहा है तो आपको सावधान होने की जरूरत है क्योकी इससे उसके शारीरिक और मानसिक growth पर असर पड रहा है।

अक्सर देखा जाता है की इस लत की बड़ी वजह माता-पिता ही होते है जो अपने बच्चो की जिद पूरी करने के लिए या शरारत करने से रोकने के लिए इसका सहारा लेते है और बाद मे पछताते है। पर कई कोशिशों के बाद भी वे इस लत से बच्चो को दूर करना बहोत मुश्किल होता है।

अगर समय रहते बच्चो को इस computer की लत को ना छुड़ाया गया तो इन समस्याओ का सामना करना पड़ता है। 

आँखे का कमजोर होना

computer को लगातार प्रयोग करने से आँखे कमजोर होने लगती है। क्योकी इससे निकालने वाली किराने आंखो की रेटीना को प्रबावित करते है और नतीजा ये होता है की आंखो मे जलन की समस्या उतपन्न होती है, कम दिखाई देता है व आंखो से जुड़ी आँय समस्या भी होती है। इसलिए आपने देखा होगा की आज बहोत कम उम्र मे ही कई बच्चो को चश्मे लगाने लगते है।

मोटापे का शिकार

मोटापे की एक बहोत बड़ी बजह ये भी है क्योकी इसके कारण बच्चे कई घंटो तक एक ही जगह बैठे रहते है और उनकी चर्बी बढ़ाने लगती है। शरीर मे जमा हो रही चर्वी को कम करने के लिए जरूरी है की कुछ शारीरिक activity की जाय पर जब कोई activity नही होती तो शरीर अपनी एक्स्ट्रा चर्बी को burn नही कर पाता और बच्चा धीरे-धीरे मोटा होता रहता है।

लोगो से दूरी

लगातार computer मे लगे रहने के कारण बच्चा कही भी बाहर नही जा पाता या उसका बाहर मन नही लगता। बाहर ना जाने के कारण उसका लोगो से मेल-जोल कम होता है। ऐसे मे अक्सर बच्चो को अकेलापन भाने लगता है व बच्चा शर्मीला हो जाता है।शर्मीला स्वाभाव आपको शुरुआत मे ठीक लग सकता है लेकिन यह आदत बच्चो की भविष्य को बरबाद करता है क्योकी वह आपने बात किसी के भी सामने खुलकर नही रख पाता।

नींद से दूरी

computer प्रेमी को ज्यादातर निशाचर कहा जाता है जिसका मतलब है रात मे जागने वाला। ऐसे बच्चे अक्सर रातभर जागकर कंप्यूटर मे लगे रहते है और जब सबके जागने का time होता है तब ये सोते है। इससे नींद तो खराब होती ही है और शरीर का संतुलन भी बिगड़ता है। क्या आप जानते है की सही नींद ना लेने की वजह से कई शारीरेक समस्याए व बीमारियाँ पैदा होती है।

कैसे करे इस आदत को दूर

computer और mobile के लत को दूर करना बहोत ही मुश्किल भरा होता है। कई लोग तो चाहते हुए भी इसे दूर नही कर पाते पर अगर प्रयास किया जाए तो इससे छुटकारा पाया जा सकता है।

Outdoor game के लिए प्रोत्साहित करें

घर के बाहर खेले जाने वाले खेल जैसे क्रिकेट, फुटबॉल के प्रती बच्चो को प्रोत्साहित करे। उसे इससे होने वाले फ़ायदों के बारे मे बताए शुरुआत मे दिक्कते आएंगी पर धीरे-धीरे बच्चा खुद इसे पसंद करने लगेगा। और computer मे सारा-सारा दिन व्यतीत नही करेगा।

computer मे गेम ना रखे

बच्चो के computer को समय-समय मे चेक करते रहे और उसके computer मे game ना रखे ताकी वे पूरा दिन उसी game मे ना गुजार दे। अगर आप उसे कम्प्युटर गेम देते है तो ज्यादा समय उसी मे बिताएगा और शायद आप जान भी नही पाएगे।

Time fix करें

अगर आपके बार-बार मना करने पर भी वह नही मान रहा है तो यहाँ पर थोड़ी सख़्ती बरतने की जरूरत है। इसके लिए आप उसके कम्प्युटर इस्तेमाल करने की सीमा तय कर दें। एक दिनचर्या बनाए जिसमे सभी कार्य के लिए समय निर्धारित किया गया हो।

नजर रखे

आपका बच्चा computer पर प्रतीदिन क्या करता है व कितनी देर बिताता है। उसके द्वारा Internet पर क्या surfing की जा रही है उसकी सारी एक्टिविटी की जानकारी आपकों होनी चाहिए। इससे आपको ये पता चलेगा की आपका बच्चा सही राह पर है या नही।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *